Saturday, 18 March 2017

सिंगापुर ,बीजिंग और दुबई की बराबरी करेगा भारत ,बिना ड्राइवर के चलेगी मेट्रो

सिंगापुर ,बीजिंग और दुबई की बराबरी करेगा भारत ,बिना ड्राइवर के चलेगी मेट्रो 

photo,images,picture,news,khabar,Bollywood,Hollywood,India,world,social,political,election,gossip, masala,taza,information,market, business,art,hungama,entertainment,latest,gallery,breaking,TV,aajkall box office,exclusive,current,headlines, daily hunt,crime,society,scandals, rumors,celebrity,mirchi,vichar page,virat kohli,social,report,choya,parda,film,samiksha,relationship,image,photo,pic,wallpaper,gallery,image,img,Design collaboration,graphics,album

नई दिल्ली :सोचिये किसी ट्रेन ऑपरेटर की देखरेख के बिना ही ,मेट्रो कोच के अंदर ऑपरेशंस कंट्रोल सेण्टर (OCC ) से 'वेक अप 'की आवाज आएगी। ओसीसी जो हर रात 'स्लीप मोड 'में चला जाता है ,उसे एक्शन में देखा जायेगा। कोच में रोशनी चालू हो जाएगी ,इंजन शुरू हो जायेगे और वाशिंग प्लांट्स में जाने से पहले ,ट्रेनों की टेकनिकल फिटनेस का ऑटोमेटिक सेल्फचेक होगा। मेट्रो बिना ड्राइवर के चलेगी। 
दिल्ली मेट्रो को दुनिया के सबसे एडवांस मेट्रो सिस्टम्स में लाने की तैयारी हो रही है। जैसे सिंगापुर ,बीजिंग और दुबई में है। वैसे ही लाइन 7 (मजलिस पार्क से शिव बिहार तक ) और लाइन 8 (जनकपुरी वेस्ट से बोटेनिकल गार्डन ) पर ड्राइवर्स के बिना मेट्रो चलेगी। इन मेट्रो को रिमांड कण्ट्रोल बनाया जाएगा। बाराखम्बा रोड के मेट्रो भवन में नया ऑपरेशन्स कण्ट्रोल सेण्टर बनाया जाएगा जहां से रिमोट कंट्रोलिंग होगी। इस कदम से दिल्ली मेट्रो के नए अध्याय की शुरुआत होगी। 
नई तकनिकी 
DMRC के प्रवक्ता अनुज दयाल का कहना है। "ड्राइवरलेसमेट्रो की तैयारी के लिए ,हम प्लेटफॉर्म स्क्रीन डोर्स और पैसेंजर अलार्म बटन जैसी चीजें मेट्रो में लाएंगे। प्लेटफॉर्म स्क्रीन डोर्स से अतिरिक्त सेफ्टी हो जाएगी। जिससे पैसेंजर की मेट्रो ट्रैक पर गिरने और दरवाजों के बीच फसने की संभावना कम हो जाएगी। किसी  परेशानी के समय ,यात्री ओसीसी से अलार्म बटन दबाकर जुड़ सकता है। जैसे ही यात्री बटन दबाएगा वैसे ही ओसीसी में उसकी शक्ल स्क्रीन पर खुल जाएगी। इसमें सीसीटीव कैमरा भी लगाए गए है। 



No comments:
Write comments

AdSense

amazon